तेज प्रताप के लिए आसान नहीं है हसनपुर में राजकुमार राय का वर्चस्व तोड़ना

Spread the news

अनूप ना. सिंह
स्थानीय संपादक

पटना/बिहार : समस्तीपुर जिले का हसनपुर विधानसभा क्षेत्र चर्चा के केंद्र में आ गया है। यह चर्चा बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर यहां से राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े लाल तेज प्रताप यादव के चुनाव लड़ने को लेकर है।

 तेज प्रताप यादव के लिए हसनपुर सबसे सुरक्षित सीट के रूप में चिन्हित की गई है، जहां तेजप्रताप आज से दो दिवसीय सघन जनसंपर्क अभियान शुरू कर रहे है। वहीं दूसरी तरफ लगातार दो बार से जदयू के विधायक राजकुमार राय भी जनसंपर्क में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे। यादव मतदाता बहुल्य हसनपुर में इस बार नीतीश कुमार और लालू यादव के सिपाही के रूप में तेज प्रताप यादव व राजकुमार राय के बीच सीधा मुकाबला होना है।

 जानकार बताते हैं कि राजकुमार राय जमीन से जुड़े नेता हैं، मुखिया से विधायक तक का सफर तय किया है और नीतीश कुमार के विश्वासपात्र हैं। स्थानीय स्तर पर इनकी लोकप्रियता काफी ज्यादा है। ऐसे में लालू के लाल तेज प्रताप के लिए हसनपुर में राजकुमार राय का वर्चस्व तोड़ना आसान नहीं होगा। मीडिया में यह भी चर्चा है कि तेज प्रताप यादव को पटखनी देने के लिए यहां से ऐश्वर्या राय का नाम भी सामने आ सकता है, पर जदयू से जुड़े सूत्र बताते हैं कि हसनपुर में तेज प्रताप यादव की लालटेन बुझाने के लिए राजकुमार राय ही काफी है। राजद से जुड़े सूत्र बताते हैं कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के आदेश के बाद ही तेज प्रताप के लिए हसनपुर का चयन किया गया है। वह महुआ से विधायक हैं, इस बार बख्तियारपुर से चुनाव लड़ना चाहते थे पर लालू प्रसाद यादव ने उन्हें हसनपुर जाने की सलाह दी। हसनपुर में लालू प्रसाद यादव के कई बड़े सिपहसालार तेज प्रताप के लिए चक्रव्यूह की रचना में लगे हुए हैं। यादव मतदाताओं के बीच लालु यादव का संदेश पहुंचाया जा रहा है।

 वहीं दूसरी तरफ वर्तमान विधायक और जदयू प्रत्याशी राजकुमार राय नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी के नाम पर लोगों को गोलबंद करने में लगे हुए हैं। यादव मतदाताओं का झुकाव दोनों पक्ष में है। ऐसे में अन्य जातियों की गई बंदी ही हसनपुर का भाग्य और भविष्य तय करेगी। चुनाव पूर्व सर्वे में याचिका फीट हाइट वाली सीट मानी जा रही है। पूरे बिहार की नहीं पूरे देश की नजर इस सीट पर रहेगी। ऐश्वर्या राय तेज प्रताप के खिलाफ में स्टार प्रचारक के रूप में उतारी जा सकते हैं, परिवारिक विवाद जनसभा जनसभाओं में भी सुनने को मिल सकता है। वर्तमान विधायक राजकुमार राय कहते हैं कि ऐश्वर्या की हसनपुर में कोई जरूरत नहीं है वो समाज की बेटी हैं उनका सम्मान है। परिवारिक रिश्ते व राजनीति अपनी अपनी जगह है बिहार के लोग नीतीश कुमार के कार्यों से खुश हैं। न्याय के साथ विकास हुआ है जनता से किए वादों को उन्होंने पूरा किया है, यादव मतदाता किसी की बपौती नहीं है, यादव मतदाता जानते हैं कि किन के शासनकाल में यादवो का सबसे ज्यादा संहार हुआ, यादवो के हक की हक मारी की गई, नीतीश कुमार सभी जाति सभी समाज के नेता हैं, किसी के आने जाने से हसनपुर में जदयू के सेहत पर कोई अंतर नहीं पड़ने वाला।


Spread the news
advertise

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें