AISF के स्थापना दिवस पर आयोजित होंगे कई कार्यक्रम, पुर्ववर्ती छात्र नेताओं का होगा सम्मान-राठौर

728x90
Spread the news

मो० नियाज अहमद
ब्यूरो, मधेपुरा

मधेपुरा/बिहार : बुधवार को विश्वविद्यालय के पुराने परिसर में वाम छात्र संगठन एआईएसएफ की विश्वविद्यालय स्तरीय एक महत्वपूर्ण बैठक छात्रनेता मन्नू कुमार की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक में मुख्य रूप से संगठन के स्थापना दिवस मनाने व आगामी कार्यक्रम सहित अन्य मामलों  को लेकर कई निर्णय लिए गए।

बैठक में भाग ले रहे संगठन के राष्ट्रीय परिषद् सदस्य सह राज्य उपाध्यक्ष व विवि प्रभारी हर्ष वर्धन सिंह राठौर ने कहा कि एआईएसएफ भारत का प्रथम छात्र संगठन होने का गौरव रखता है। आजादी के गर्भ से निकले संगठन का सफर ऐतिहासिक रहा है। उन्होंने कहा कि संगठन का स्थापना दिवस 12-13 अगस्त को यादगार रूप से मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि बैठक में निर्णय लिया गया कि इस स्थापना दिवस के अवसर पर एक स्मारिका प्रकाशित किया जाएगा, जिसमें छात्रों के संग विद्वानों के आलेख आमंत्रित किया जाएगा और साथ ही स्थापना दिवस तक अलग अलग स्तरों पर कई कार्यक्रम यथा वृक्षार पुर्ववर्ती छात्र नेताओं संग विभिन्न क्षेत्रों की प्रतिभाओं का सम्मान समारोह आयोजित किया जाएगा। 

छात्र नेता राठौर ने बताया कि स्थापना दिवस तक के आयोजन के लिए एक  अस्थाई आयोजन समिति राज्य परिषद् सदस्य सह संयुक्त जिला सचिव सौरभ कुमार के नेतृत्व में गठित की गई। बैठक में अपनी बात रखते हुए हुए संगठन के राज्य परिषद सदस्य सौरभ कुमार ने कहा कि संगठन के स्थापना दिवस को लॉकडाउन के नियमों के दायरे में यादगार रूप से मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस दौरान संगठन को ग्रामीण स्तर तक ले जाया जाएगा। सौरभ ने कहा कि बीएनएमयू के शैक्षणिक हालात को जंग लग गया है जिसके कारण छात्रहित के मामले गौन होने लगे हैं। हर मांग पर मात्र आश्वाशन मिलता है पहल नहीं होती।अब संगठन आंदोलन के लिए विवश है एक दो दिन में आंदोलन का शंखनाद किया जाएगा।

बैठक में पहुंचे संगठन चर्चित छात्र नेता रहे डॉ मनोज कुमार ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि एआईएसएफ भारत का पहला छात्र संगठन होने के साथ साथ आजादी के आंदोलन में भाग लेने का ऐतिहासिक गौरव रखता है। संगठन को बड़े स्तर पर सदस्य बनाकर लगातार मजबूत करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि संगठन के साथ लंबे समय तक जुड़कर काम करने का सुअवसर उन्हें भी मिला।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए मन्नू कुमार ने कहा कि सभी कार्यक्रमों को आयोजित करने के साथ साथ करोना के खिलाफ लड़ाई को भी समाज के बीच जारी रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि स्मारिका प्रकाशन के लिए जल्द ही टीम गठित की जाएगी।

बैठक में एआईवाईएफ जिलाध्यक्ष जितेंद्र कुमार मुन्ना,भूषण कुमार, मृत्युंज्य,राकेश, सलित कुमार,पवन कुमार सुमन,आलोक कुमार,रवि भूषण आदि मौजूद रहे।


Spread the news