मधेपुरा : वर्तमान दौर में छात्रों को सही दिशा देने की जरूरत-सुशील

728x90
Spread the news

एआईएसएफ के राज्य सम्मेलन में चुनौतियों पर होगा मंथन-राठौर

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : शुक्रवार को देर शाम जिला मुख्यालय के जय प्रकाश भवन में एआईएसएफ जिला परिषद् के बैनर तले छात्रों की एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में  आगामी 19 से 21 अप्रैल तक सिवान में होने वाले संगठन के राज्य सम्मेलन की जानकारी देते हुए संगठन के राज्य सचिव सुशील कुमार ने कहा कि इस सम्मेलन ने छात्रों की समस्या यथा विभिन्न परीक्षाओं में लीक हो रहे प्रश्नपत्रों से उत्पन होते सवालों, सरकार के आदेश के बाद भी लड़कियों सहित एस टी, एस सी के छात्रों को पीजी तक निशुल्क शिक्षा नहीं मिलने, राज्य की चरमराई शिक्षा व्यवस्था और सरकार की उदासीनता पर मंथन होगा साथ ही इसके निदान के लिए हर स्तर पर पहल का ऐलान भी।

उन्होंने कहा कि उसके पहले सभी जिलों में जिला सम्मेलन अत्यावश्यक है, इसी कड़ी में वो सहरसा आए हैं। संगठन के राष्ट्रीय परिषद् सदस्य सह बीएनएमयू प्रभारी हर्ष वर्धन सिंह राठौर ने कहा कि ए आई एस एफ देश का पहला छात्र संगठन है, एकमात्र इसी संगठन को देश की आजादी में भाग लेने का सौभाग्य प्राप्त है। छात्र हित में संघर्ष का स्वर्णिम इतिहास रहा है। सहरसा में संगठन को मजबूत कर छात्रहित आंदोलन को धार देना उनकी प्राथमिकता रहेगी। पूर्व राज्य उपाध्यक्ष शंकर कुमार ने कहा कि राज्य सम्मेलन से पहले विभिन्न अंचलों सहित कॉलेज व प्रखंड का सम्मेलन किया जाएगा ।

बैठक में मौजूद संगठन के राज्य परिषद सदस्य सौरभ कुमार और ए आई वाई एफ मधेपुरा जिला अध्यक्ष मुन्ना कुमार ने संगठन को मजबूत करते हुए हमेशा छात्र हित में सक्रिय रहने की बात कही।बैठक की अध्यक्षता कर रहे अर्जुन यादव ने कहा कि संगठन का जिला सम्मेलन 15अप्रैल को कराया जाएगा।इसकी तैयारी अभी से शुरू कर दी गई है। सम्मेलन में स्थानीय मुद्दों पर मंथन कर निराकरण का रास्ता निकाला जाएगा।

बैठक में अमित, जितेंद्र, मनोहर, प्रेम शंकर, मुकेश, प्रवीण, कुंदन, सौरभ, रवि, अरविंद, मुकेश, सहित अन्य मौजूद रहे।


Spread the news