वैशाली: कोरोना के कारण घर पर ही कराया जाएगा अन्नप्राशन

Spread the news

वैशाली से मो0 नदीम रब्बानी की रिपोर्ट :                                                         

वैशाली/बिहार : आंगनबाड़ी को कोरोना वायरस के कारण 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है। पर बंद के दौरान पोषण का कार्य प्रभावित न हो इसके लिए आंगनबाड़ी सेविकाएं गृह भ्रमण कर राशन तो दे ही रहीं है। इसके अलावा गुरुवार को होने वाले अन्नप्राशन दिवस के लिए बुधवार को ही सेविकाओं ने अपने क्षेत्र में अन्नप्राशन निमंत्रण कार्ड घर जाकर दे रही हैं।

डीपीओं माला कुमारी ने बताया इस बार कोरोना के कारण घर पर ही अन्नप्राशन कराया जाएगा। इसके साथ ही राशन वितरण का कार्य किया जा रहा है। बुधवार तक बच्चों के घर में राशन का वितरण हो जाना थां। वहीं जिन लोगों ने इस महीने का राशन नहीं लिया था वह केंद्र लाभुकों को उतनी राशि का वितरण कर प्राप्ति रसीद ले लेगें।

पोषण पखवाड़े में सेविकाएँ कर रहीं गृह भ्रमण : पोषण अभियान के तहत राज्य भर में 8 मार्च से पोषण पखवाड़ा चलाया जा रहा है, जो 22 मार्च तक चलाया जाना था, लेकिन कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ने की संभावना को देखते हुए पोषण अभियान के तहत समुदायिक गतिविधियों का आयोजन नहीं किया जा रहा है। आंगनबाड़ी केद्रों के बंद होने के बावजूद जन आन्दोलन प्रभावित न हो सके इसके लिए आँगनबाड़ी सेविकाएँ इस दौरान मुख्य रूप से गृह भ्रमण कर रही है एवं लोगों को पोषण सहित कोरोना वायरस पर भी लोगों को जागरूक कर रही हैं। 

गृह भ्रमण पर ऐसे कर रही जागरुक : गृह भ्रमण के दौरान शौचालय के महत्व, स्वच्छ पेयजल का महत्व, संतुलित आहार, परिवार नियोजन, हाथों व व्यक्तिगत स्वच्छता, पोषण अभियान के लक्ष्यों यथा नाटापन, दुबलापन, अल्प वजन व एनीमिया की कमी दूर करने के लिए सेविकाएँ जरुरी परामर्श दे रही हैं ।


Spread the news
advertise