दरभंगा : समीक्षा बैठक में डीएम ने बीडीओ सहित कई अधिकारियों पर लगाई फटकार, आवास सहायकों से स्पष्टीकरण

728x90
Spread the news

ज़ाहिद  अनवर (राजु)
उप संपादक

दरभंगा/बिहार : जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस एम ने आज हनुमाननगर प्रखंड में कई योजनओ की समीक्षा बैठक की। बैठक में प्रखंड विकास पदाधिकारी व अंचल अधिकारी को फटकार लगाते हुए कई आवास सहायकों के वेतन भुगतान पर रोक लगाते हुए उनके विरूद्ध स्पष्टीकरण जारी करने का आदेश दिया। उनके साथ सदर अनुमंडल पदाधिकारी राकेश गुप्ता भी थे।

मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत संचालित हर घर नल का जल, शौचालय निर्माण, प्रधानमंत्री आवास योजना व बाढ़ पूर्व तैयारी में तेजी लाने के लिए डीएम ने सदर एसडीओ राकेश कुमार गुप्ता के साथ शनिवार को प्रखंड के प्रतिनिधि भवन में जनप्रतिनिधियों, कर्मचारियों व अधिकारियों की एक बैठक की।

बैठक में सभी 14 पंचायत में चल रहे मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निश्चय योजना, स्वच्छता अभियान व प्रधानमंत्री आवास से जुड़े अभिलेख व संचिका की बारी-बारी से समीक्षा की गई। डीएम ने पीएचईडी द्वारा गोद लिए गए पटोरी व पंचोभ पंचायत में जल्द से जल्द प्रत्येक परिवार को नल का नल उपलब्ध कराने के लिए विभागीय अभियंता को निदेशित किया। प्रखंड के 14 में से शेष 12 पंचायतों में धीमी गति से जारी हर घर नल का जल योजना के कार्यों में भी तेजी लाने के लिए बीडीओ को कई निर्देश दिए। शौचालय निर्माण के लिए सरकार की ओर से प्रत्येक परिवार को दिए जाने वाले प्रोत्साहन राशि का जियो टैग कर जल्द से जल्द भुगतान करने के लिए कहा।

पंचोभ पंचायत के मुखिया राजीव कुमार चौधरी की ओर से लाभुकों को बीडीओ द्वारा सेक डाटा के आधार पर शौचालय निर्माण की प्रोत्साहन राशि भुगतान करने के सवाल पर जिलाधिकारी ने बीडीओ को फटकार लगाते हुए एक छत, एक शौचालय के आधार पर भुगतान करने का मौखिक आदेश दिया। प्रधानमंत्री आवास योजना में लापरवाही बरतने वाले आवास सहायक पर कारवाई करते हुए वेतन स्थगित करने का आदेश भी जिलाधिकारी ने बीडीओ को दिया। वहीं बाढ़ पूर्व तैयारी के लिए आदेश के बावजूद समय से प्रभावित परिवारों का डाटा बेस तैयार नहीं किए जाने के लिए सीओ को डांट पिलाई। अंचल क्षेत्र के तटबंधों पर के अतिक्रमण को संबंधित थाना के थानाध्यक्ष के सहयोग से सप्ताह दिन के भीतर अतिक्रमण हटाने, सभी सरकारी व निजी नावों का निबंधन कराने का निर्देश भी सीओ को दिया। बाढ़ के समय में होने वाली पशुचारा संबंधी समस्या को लेकर इसके समुचित भंडारण करने का निर्देश प्रखंड पशुपालन पदाधिकारी को दिया। मौके पर सभी विभागों के कर्मचारी, अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद थे।


Spread the news