मधेपुरा : बीपी मंडल अभियंत्रण कॉलेज, मधेपुरा के छात्रों ने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया

अमित कुमार
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : बीपी मंडल अभियंत्रण महाविद्यालय, मधेपुरा के छात्रों ने गया कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में अपना पंचम लहराया। गया कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के द्वारा 27 सितंबर से 29 सितंबर तक तीन दिवसीय मेगा टेकफेस्ट का आयोजन किया गया था, जिमसें बिहार व झारखंड के विभिन्न इंजिनीरिंग कॉलेज के छात्रों ने कई टेक्निकल प्रतियोगिता में भाग लिए थे। जिमसें मधेपुरा इंजीनियरिंग कॉलेज के कंप्यूटर साइंस ब्राँच के छात्र अमरजीत कुमार की टीम अमरजीत कुमार, पुष्कर कुमार, मो तमन्ना ने मिलकर एण्ड्राईड एप डेवलपर में प्रथम स्थान प्राप्त किया। जिसके लिए उन्हें मेडल के साथ एक हजार रूपये के पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

रोबोबार में श्रवण शाहु, रौशन कुमार, पुष्कर कुमार, निरंजन कुमार की टीम ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। जिसके लिए उन्हें मेडल के साथ आठ सौ रुपये का पुरस्कार दिया गया। राॅबोटिक्स में अरविन्द कुमार, निरंजन कुमार, चंदन कुमार, शारदा कुमारी, शिल्पा कुमारी, प्रिया राज की टीम ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया, जिसके लिए उन्हें मेडल के साथ आठ सौ रूपये का पुरस्कार दिया गया। टेक्नोवेशन साइंस क्लब के द्वारा प्रशिक्षित सप्तम वर्गीय छात्र को बेस्ट इंजीनियरिंग आवार्ड से नवाजा गया।

वहीँ इसको लेकर बी पी मंडल अभियंत्रण महाविद्यालय के छात्रों तथा प्राध्यापकों में खुशी की लहर है तथा महाविद्यालय प्राचार्य डा सीपी सिंह ने छात्रों को बधाई दी। टेक्नोवेशन साइंस क्लब के इंचार्ज प्रो मोहन कुमार मंगलम ने छात्रों को बधाई देते हुए कहा कि छात्रों में टेलेंट की कोई कमी नहीं है, सिर्फ संसाधनों के अभाव के कारण वह अपनी प्रतिभा नहीं दिखा पाते हैं। इसके साथ ही तकनीकी छात्र संगठन के पुर्व प्रदेश मीडिया प्रभारी सह सिविल इंजीनियरिंग के तृतीय वर्ष के छात्र सन्नी कुमार ने सभी को बधाई देते हुए कहा कि बिहार इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्रों को ऐसे माहौल की कमी हैं, अगर छात्रों को ऐसे प्लेटफॉर्म मिलती रही तो छात्रों को किसी भी प्रकार की आन्दोलन करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। हम सभी छात्र पुनः अनुरोध कर रहे हैं कि हमारी समस्या का समाधान की जाए, अभी तक समस्या ज्यों का त्यों रखा हुआ है।

Check Also

सुपौल : करंट लगने से छात्र की मौत

🔊 Listen to this छातापुर से रियाज खान की रिपोर्ट: छातापुर/सुपौल/बिहार : छातापुर प्रखंड अंतर्गत …