बिहार : पटना एम्स में पहली बार जागते हुए मरीज का निकाला गया ब्रेन ट्यूमर

सीमाब अख्तर
वरीय उप संपादक

फुलवारीशरीफ/बिहार : न्यू रो सर्जरी विभाग पटना एम्सक की टीम ने सोमवार को एक नई सफलता हासिल की। पटना एम्सन में पहली बार अवेक पेशेंट (जागते हुए मरीज) का ब्रेन ट्यूमर निकाला गया। डेढ़ घंटे चले इस ऑपरेशन के दौरान मरीज अपने ब्रेन में हो रही सर्जरी को महसूस करता रहा और डाक्टिर उसके ब्रेन में बने 5 सेंटीमीटर का ट्यूमर बड़ी आसानी के साथ बाहर निकाल लिया।

न्यूररो सर्जरी विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डा साकिब आजाद सिद्दीकी ने बताया कि ब्रेन ट्यूमर के कुछ खास मामलों में अवेक सर्जरी की जरूरत पड़ती है। सर्जरी के दौरान मरीज की कोई नस प्रभावित हो रही हो तो मरीज के गतिविधि से सर्जन को यह आभास हो जाता है। फिर मरीज के गतिविधि के कारण सर्जन प्रभावित नस को आसानी से बचा लेता है। पटना एम्सज में ब्रेन की सर्जरी पहले भी हो चुकी है लेकिन अवेक पेशेंट (जागते हुए मरीज) की सर्जरी पहली बार सफलता के साथ हुई है। सर्जरी को कामयाब बनाने में डा साकिब आजाद सिद्दकी के साथ एनेस्थीासिया विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डा अजीत कुमारए असिस्टें ट प्रोफेसर डा पूनम की टीम का महत्विपूर्ण रौल रहा।
क्या थी बीमारी :

समस्ती पुर निवासी रोहित (22) को बीते एक महीने से सिर दर्द और दौरे पड़ने की शिकायत थी। एम्स पटना में जांच के दौरान पता चला कि उन्हें मस्तिष्कर के बायीं ओर टयूमर है। पटना एम्सो न्यूनरो सर्जरी विभाग की टीम ने इस सर्जरी को सफलता पूर्वक कर लिया।

गौरतलब हो कि न्यू रो सर्जरी विभाग की ओपीडी पटना एम्सप में सोमवार, मंगलवार व गुरूवार को होती है। ब्रेन स्पारइन और वैस्कूरलर सभी तरह की न्यूटरोसर्जरी वर्तमान में पटना एम्स में शुरू हो चुकी है।

Check Also

सुपौल : करंट लगने से छात्र की मौत

🔊 Listen to this छातापुर से रियाज खान की रिपोर्ट: छातापुर/सुपौल/बिहार : छातापुर प्रखंड अंतर्गत …